Cruise Control: देश के कार सेक्टर में बढ़ते कॉम्पिटिशन को देखते हुए कार निर्माता कंपनियां कारों में लगातार नई टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर उन्हें समय के साथ अपडेट कर रही हैं। जिससे आज के समय पर ड्राइविंग भी काफी आसान हो गई है। आपको बता दें कि क्रूज कंट्रोल जैसे फीचर से भी कार ड्राइव करने में काफी आसानी होती है। और अगर आपको नहीं पता कि क्या होता है क्रूज कंट्रोल और ये कैसे काम करता है, और किस तरह से ये ड्राइवर की हेल्प करता है। तो चलिए आज आपको बताते हैं कि ये फीचर Cruise Control कैसे कैम करता है , और इसके क्या फायदे ौर क्या नुकसान होते हैं।

क्या होता है Cruise Control

सबसे पहले जानते हैं कि आखिर ये Cruise Control होता क्या है। दरअसल, ये एक ऐसा सिस्टम होता है जोकि ड्राइवर द्वारा सेट की गई स्पीड लिमिट पर आपकी कार को चलाता है। और इस सिस्टम को कार में एक बार एक्टिव करने के बाद फिर एक्सीलेरेटर पर आपको पैर रखने की जरूरत नहीं पड़ती।

ये भी पढ़े: Sunroof Car खरीदने की प्लानिंग कर रहे हैं, तो यहां जान लिजिए Honda Jazz को खरीदने का ईज़ी फाइनेंस प्लान के बारे में…

काम कैसे करता है

आपको बता दें कि किसी भी कार में ये Cruise Control सिस्टम उसकी स्पीड को बरकरार रखने के लिए ड्राइवर की नकल तरने का काम करता है। क्योंकि मैनुअल तरीके में कार को चलाने पर ड्राइवर को बार- बार एक्सीलेरेटर को दबाना पड़ता है। और इसे जितनी बार दबाया जाता है उतनी ही स्पीड में आपकी कार चलती है। लेकिन वहीं, क्रूज कंट्रोल की बदौलत एक बार कार स्पीड को सेट करने के बाद आपको बार- बार एक्सीलेरेटर को दबाने की जरूरत नहीं पड़ती है।

क्या हैं Cruise Control के फायदे

आपको बता दें कि क्रूज कंट्रोल का सबसे बड़ा फायदा ही ये है कि इसे एक बार एक्टिव करने के बाद आपकी कार खुद ही चलती है। और ड्राइवर को बार- बार कार के एक्सीलेरेटर पर पैर रखने की कोई जरूरत नहीं पड़ती। जिससे की ड्राइवर को थकावट भी कम होती है। जैसे की प्लेन में ऑटो पायलट मोड अपना काम करता है ठीक वैसे ही कार में भी क्रूज कंट्रोल इस तरह से काम करता है। और इसके अलावा एक ही स्पीड में कार चलने की वजह से आपको एवरेज भी काफी बेहतर मिल जाता है।

लेकिन ये नुकसान भी हैं

जहां फायदा होता है तो वहां नुकसान होना भी लाज़मी है। बता दें कि ऐसा नहीं है कि क्रूज कंट्रोल से सिर्फ आपको फायदा ही होता है। कई बार इस फीचर की वजह से नुकसान भी हो जाता है। बता दें कि इसे यूज करते समय कार ड्राइवर को बिल्कुल भी लापरवाह नहीं होना चाहिए। क्योंकि अगर हम कार में क्रूज कंट्रोल को एक्टिवेट करके आराम करने लगें और उसी दौरान अचानक से कार के सामने कुछ भी आ जाए तो इस लापरवाही के कारण एक गंभीर हादसा भी हो सकता है। इसलिए इस फीतर का उपयोग करते समय हमेशा सतर्क रहना ही ड्राइवर के लिए बेहतर होता है। इसके अलावा आपको बता दें कि अभी भी भारत में मिलने वाली कारों के टॉप वैरिएंट में ही इस फीचर को ऑफर किया।

LATEST POSTS:-