प्रदूषण मुक्त होगा पर्यावरण, LG का भारत के इलेक्ट्रिक कार क्रांति में शामिल होने का लक्ष्य

LG Energy plans to sell batteries to more ev car company in india

LG की भारतीय बाजार में इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट निर्माता के रूप में अच्छी प्रतिष्ठा है। साथ ही, एलजी एनर्जी सॉल्यूशंस (LG Energy Solutions) देश के कई इलेक्ट्रिक दोपहिया ब्रांडों को बैटरी सेल की आपूर्ति भी करती है। आपको यह सुनकर आश्चर्य होगा कि वे दुनिया के सबसे बड़े ईवी बैटरी आपूर्तिकर्ताओं में से एक हैं। एलजी एनर्जी अब भारत में अपना कारोबार बढ़ाने की योजना बना रही है। इसके लिए LG देश की पैसेंजर ईवी कंपनियों के साथ हाथ पार्टनरशिप के मौके तलाश रही है।

एलजी एनर्जी अंतराष्ट्रीय बाजार में Tesla और Hyundai जैसी वाहन निर्माताओं को बैटरी बेचती है। दक्षिण कोरियाई कंपनी ने भारत जैसे बाजारों में कारोबार करने वाली इलेक्ट्रिक दोपहिया कंपनियों के साथ पार्टनरशिप करने की कोसिस कर रही है। LG ने बैटरियों की बिक्री बढ़ाने के लिए यह फैसला लिया है।

ये भी पढ़े- Tata Harrier EV: टाटा की ये कार हिला देगी मार्केट, फुल चार्ज पर चलेगी 500 किमी!

हालाँकि, एलजी एनर्जी वर्तमान में भारत में किस कंपनी के साथ पार्टनरशिप पर हस्ताक्षर करने के लिए बातचीत कर रही है, इस विषय को गुप्त रखा गया है। एलजी एनर्जी की भारतीय ब्रांच वर्तमान में देश के अधिकांश स्कूटर निर्माताओं को बैटरी सेल की आपूर्ति करती है। जिनमें Ola Electric और TVS हैं। पिछले साल भारत में अपना फैक्ट्री स्थापित करने के बाद से, कंपनी 50 प्रतिशत से अधिक बाजार हिस्सेदारी पर कब्जा करने में सफल रही है।

एलजी वर्तमान में Mahindra & Mahindra को भी बैटरी सेल की आपूर्ति करता है। भारत का इलेक्ट्रिक कार बाज़ार छोटा है लेकिन बहुत तेजी से बढ़ रहा है। सरकार का लक्ष्य 2030 तक कुल कारों की बिक्री का 30 प्रतिशत बैटरी चलित गाड़ियों को करना है। साथ ही 70 प्रतिशत स्कूटरों को इलेक्ट्रिक बनाने का लक्ष्य भी रखा है।

Latest Post-

2 साल से मीडिया क्षेत्र से जुड़े हर्ष सिंह मोटर रडार को अपने कार्यों से लगातार योगदान दे रहे हैं। जिसमें हर्ष ऑटोमोबाइल बीट पर काम कर रहे हैं। इनके लेखनी को मोटर रडार के पाठकों द्वारा काफी पसंद भी किया जाता है। आपको जान कर हैरानी होगी की एक छोटे संस्थान से शुरुआत करने वाले हर्ष सिंह अपने करियर में साल 2023 में ग्रुप से जुड़े। इन्होंने 9 महीनों तक विभिन्न साइटो को अपनी सेवा प्रदान की। अब मोटर रडार को योगदान दे रहे हैं।